लखनऊ। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी) व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) में तैनात डॉक्टर अब किसी दूसरे स्थान पर ड्यूटी लगने के नाम पर गायब नहीं हो सकेंगे। प्रदेश सरकार ने इनकी दूसरे स्थानों पर ड्यूटी लगाने से मना कर दिया है। इस संबंध सभी सीएमओ को लिखित निर्देश भी भेज दिए गए हैं।

दरअसल, पीएचसी व सीएचसी में तैनात डॉक्टर अक्सर न्यायालय में साक्ष्य, पोस्टमार्टम या फिर कोई अन्य ड्यूटी बताकर अस्पतालों से गायब हो जाते हैं। इस कारण इलाज के लिए आने वाले मरीजों को काफी परेशानी होती है। इसी को देखते हुए सरकार ने इनकी ड्यूटी कहीं और न लगाने के निर्देश दिए हैं। 

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अरविन्द कुमार ने सभी सीएमओ को पत्र भेजकर कहा कि विशेष परिस्थितियों को छोड़कर सीएचसी-पीएचसी में तैनात चिकित्सा अधिकारियों की ड्यूटी कहीं दूसरी जगह न लगाई जाए और अगर इनकी ड्यूटी कहीं दूसरी जगह लगाई जा रही है तो अस्पताल में वैकल्पिक इंतजाम जरूर किए जाएं।
दूसरी जगह ड्यूटी के नाम पर अक्सर हो जाते हैं गोल सरकार ने सभी सीएमओ को भेजे निर्देश

एक टिप्पणी भेजें

 
Top