उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2015 में चार सवाल गलत हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने प्रश्नों पर मिली आपत्ति पर विषय विशेषज्ञों से राय लेने के बाद संशोधित और फाइनल आंसर-की वेबसाइट पर अपलोड कर दी है जो चार मार्च तक रहेगी।

उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के तीन जबकि प्राथमिक स्तर की परीक्षा में एक सवाल गलत है। इन प्रश्नों को करने वाले प्रत्येक परीक्षार्थियों को समानरूप से एक-एक अंक दिए जाएंगे। इन प्रश्नों के या तो एक से अधिक विकल्प सही थे या सवाल ही गलत था।

हालांकि अफसरों ने इस बात को स्पष्ट नहीं किया है। उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए बुकलेट सिरीज डब्ल्यू के प्रश्न संख्या 37 अजातशत्रु में कौन सा समास है का विकल्प तत्पुरुष, द्वन्द्व, कर्मधारय व बहुब्रीहि दिया था। पहली बार जारी आंसर-की में बहुब्रीहि विकल्प सही माना था।

लेकिन संशोधित आंसर-की में सवाल ही गलत मान लिया गया है। प्रश्नसंख्या 123 मुरब्बा बनाने के लिए अनुपयुक्त फल है का विकल्प बेल, आंवला, संतरा व सेब दिया था।

पहली बार संतरा सही विकल्प माना था लेकिन फाइनल आंसर-की में सवाल गलत माना गया है। डब्ल्यू सिरीज के ही प्रश्नसंख्या 140 कबड्डी में कितने खिलाड़ी होते हैं का विकल्प 8, 7, 9 व 12 दिया था।

पहली बार इसका सही जवाब 12 माना था लेकिन संशोधित उत्तरमाला में प्रश्न गलत मान लिया गया है। इसी सिरीज के प्रश्नसंख्या 134 मांसपेशियां किस कार्य में सहायक होती है का विकल्प पहले शरीर की गतिशीलता में सही माना था।

उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा देने वाले प्रतियोगी छात्र डॉ. कपिलदेव शर्मा व विपिन दीक्षित ने बताया कि संशोधित आंसर-की में इस प्रश्न के सभी चारों विकल्पों को सही मान लिया गया है।

इसी प्रकार प्राइमरी स्तर की परीक्षा में एक प्रश्न गलत है जबकि दो प्रश्नों के विकल्प बदले गए हैं।

एक टिप्पणी भेजें

 
Top