जागरण संवाददाता, लखनऊ : प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन (उप्र) का वार्षिक सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने मुख्य अतिथियों के सामने अपना एजेंडा रखा।

उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों के शिक्षक पढ़ाई करवाने के अलावा भी कई काम करवाए जा रहे हैं, ऐसे में वह स्कूल में अपना पूरा वक्त ही नहीं दे पा रहे हैं। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि धन की कोई कमी नहीं है लेकिन भ्रष्टाचार के कारण स्थितियां खराब हो गई हैं।

राज्य सरकार अपने संकल्प पत्र पर तेजी से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि काम में पारदर्शिता लाने पर जोर दिया जा रहा है। प्रत्येक कक्षा में अध्यापक हों इसका भी इंतजाम होगा। कार्यक्रम में मलिहाबाद की विधायक जयदेवी कौशल ने कहा कि वह शिक्षकों के हित की लड़ाई लड़ेंगी।

एक टिप्पणी भेजें

 
Top