मित्रों आज हम आपका परिचय मिशन शिक्षण संवाद के माध्यम से जनपद- फतेहपुर से बेसिक शिक्षा के अनमोल रत्न शिक्षक भाई गंगादीन वर्मा जी से करा रहे हैं।

जिन्होंने अपनी सकारात्मक सोच से वर्तमान परिस्थितियों के बीच में भी अपने विद्यालय को सामाजिक विश्वास के रूप में बनाया है।

आपने अपने विद्यालय को परिवेश से लेकर शिक्षण गतिविधियों का केन्द्र बना दिया। जो हम सबके लिए अनुकरणीय और प्रेरक है।

तो आइये जानते हैं भाई गंगादीन वर्मा जी के विश्वासपूर्ण प्रयासों को :-

मैं गंगादीन वर्मा उच्च प्राथमिक विद्यालय मिराई, देवमई, फतेहपुर में प्रधानाध्यापक के पद पर कार्यरत हूँ मेरी प्रथम नियुक्ति प्राथमिक विद्यालय गोपालपुर धधौरा शिक्षा क्षेत्र- खजुहा फतेहपुर में हुई थी इसके बाद मेरा स्थानांतरण प्राथमिक विद्यालय अवसेरी खेड़ा, शिक्षा क्षेत्र-देवमई, जनपद- फतेहपुर में हुआ इस के बाद 12/09/2015 को प्रधानाध्यापक पद पर नियुक्ति हुई मेरे द्वारा समय का विशेष ध्यान दिया गया व अभिभावकों को शिक्षा के प्रति जागरुक किया गया।

वह घर-घर जाकर बच्चों को लाने का प्रयास किया गया जिससे छात्रों के नामांकन में बढ़ोतरी दिन-प्रतिदिन हो रही है अप्रैल-2017 में 27 नए नामांकन किए गए मेरे विद्यालय के आस पास प्राइवेट विद्यालय बहुत हैं जिससे नामांकन में परेशानी होती थी लेकिन अब प्राइवेट विद्यालय से मेरे  विद्यालय में बच्चे नामांकन करा रहे हैं बच्चों व अभिभावकों को अपने विद्यालय की ओर आकर्षित करने के लिए पोस्टर गांव के प्रत्येक घर पर लगाए गए हैं विद्यालय भवन साफ सुथरा रखने के लिए एक मजदूर की व्यवस्था की गई है विद्यालय भवन की रंगाई व पुताई व सुंदर चित्रों का कार्य मेरे द्वारा कराया गया है विद्यालय में पुस्तकालय की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई गई है तथा एक सुंदर कार्यालय की व्यवस्था की गई है जिस पर सुंदरीकरण करने के लिए महापुरुषों की फोटो गुलदस्तों तथा सुंदर परदों को लगाया गया है विद्यालय में एमडीएम का सामान चोरी हो गया था जिसकी व्यवस्था स्वयं की गई अनाज भरने के लिए कोठी व टंकी लाई गई प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी व 15 अगस्त को सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले बच्चों को पुरस्कार वितरण भी किया जाता है ।

प्रत्येक बच्चे का आई कार्ड बनवाया गया और हमारे सहयोगी श्री सूर्यकुमार बाजपेई सहायक अध्यापक के द्वारा बालसभा तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के संचालन में विशेष योगदान रहता है विद्यालय में प्रत्येक वर्ष वृक्षारोपण का कार्य होता है जिससे विद्यालय में आज काफी पेड़-पौधे हैं मेरे यहां 2013 में नियुक्त श्री अवधेश कुमार खेल शिक्षक का भी सहयोग रहता है ड्रम के द्वारा पीटीकराना तथा खेल के प्रति जागरुक करना तथा समय-समय पर खेलकूद प्रतियोगिता कराना जिसमें पूर्व के वर्षों में ब्लॉक स्तर में सबसे आगे मेरा विद्यालय रहा है तथा जनपद स्तर की खेलकूद रैली में बच्चों को प्रतिभाग कराना रहता है विद्यालय में प्रत्येक वर्ष नवरात्र में हवन पूजा महाशिवरात्रि में रामायण का पाठ कराया जाता है विद्यालय में प्रत्येक वर्ष कक्षा में प्रथम द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं मेरे तथा विद्यालय के समस्त स्टाफ के सहयोग से प्रत्येक वर्ष बच्चों को टूर पर ले जाया जाता है तथा नवाचार के माध्यम से शिक्षण कार्य कराया जाता है तथा मेरे विद्यालय की अध्यापिकाओं द्वारा सिलाई कढ़ाई आदि कार्य कराए जाते है।

उच्च प्राथमिक विद्यालय मिराई, शिक्षा क्षेत्र-देवमई जनपद-फतेहपुर प्रधानाध्यापक- गंगादीन वर्मा

साभार : अवधेश कुमार (अनुदेशक्) उच्च प्राथमिक विद्यालय मिराई, शिक्षा क्षेत्र देवमई, जनपद-फतेहपुर

मित्रों आपने देखा कि आपके लघु प्रयासों से धीरे- धीरे विद्यालय को अनुकरणीय बनाने की ओर अग्रसर कर दिया। मिशन शिक्षण संवाद की ओर से भाई गंगादीन वर्मा जी एवं सहयोगी विद्यालय परिवार को बहुत-बहुत शुभकामनाएं!

👉 मित्रों आप भी यदि बेसिक शिक्षा विभाग के सम्मानित शिक्षक हैं या शिक्षा को मनुष्य जीवन के लिए महत्वपूर्ण और अपना कर्तव्य मानते है तो इस मिशन संवाद के माध्यम से शिक्षा एवं शिक्षक के हित और सम्मान की रक्षा के लिए हाथ से हाथ मिला कर अभियान को सफल बनाने के लिए इसे अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने में सहयोगी बनें और शिक्षक धर्म का पालन करें।

हमें विश्वास है कि अगर आप लोग हाथ से हाथ मिलाकर संगठित रूप से आगे बढ़े तो निश्चित ही बेसिक शिक्षा से नकारात्मकता की अंधेरी रात का अन्त होकर रोशनी की नयी किरण के साथ नया सवेरा अवश्य आयेगा। इसलिए---

👫 आओ हम सब हाथ मिलायें।
      बेसिक शिक्षा का मान बढ़ायें।।

👉🏼 नोटः- यदि आप या आपके आसपास कोई बेसिक शिक्षा का शिक्षक अच्छे कार्य कर शिक्षा एवं शिक्षक को सम्मानित स्थान दिलाने में सहयोग कर रहा है तो बिना किसी संकोच के अपने विद्यालय की उपलब्धियों और गतिविधियों को हम तक पहुँचाने में सहयोग करें।

☀ आपकी ये उपलब्धियाँ और गतिविधियाँ हजारों शिक्षकों के लिए नयी ऊर्जा और प्रेरणा का काम करेंगी। इसलिए बेसिक शिक्षा को सम्मानित स्थान दिलाने के लिए हम सब मिशन शिक्षण संवाद के माध्यम से जुड़कर एक दूसरे से सीखें और सिखायें। बेसिक शिक्षा की नकारात्मकता को दूर भगायें।

साभार : शिक्षण संवाद एवं गतिविधियाँ फेसबुक पेज
 

एक टिप्पणी भेजें

 
Top